दोस्तों आइए मेरी कहानियों पर एक नजर डालिए. यूँ कहना ज्यादा मुनासिब होगा कि आसपास की दुनिया को मेरी नजर से देखिये न, शायद कुछ अच्छा लगे अलहदा लगे. प्लीज मुझे बताइये जरूर..