I am seventy plus house maker. I did my MA ( Hindi ) in 1971 . At first I was thinking to get Ph D and subsequently join as a lecturer . But I decided otherwise and preferred to look after family .Also I was of opinion that if I can manage without job it is better as I might deprive a man of job. He has to care a family, may be aging parents also . That will help him and the society . I spent most of my life as home maker .I started writing stories and articles only for past five years when my children are well settled . Several of my stories and articles and columns have already been published in Delhi Press magzines - Sarita , Grihshobha , Mukta and Saras Salil . I aim to publish my own book ebook through Matrubharti . I am frequently visiting my children in the USA .

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया English शुभ प्रभात
10 महीना पहले

If he announces I don't care for you
It means he does care for you
Don't get so quickly disheartened
There is a reason for him to pretend
#जाहीर
# announce
not in competition.
SS from USA

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी गीत
10 महीना पहले

ये कैसा आलम है आज
बदले से हैं सब के अंदाज
भूल गए मिलना जुलना आज
आज फेसबुक ट्वीटर हैं
इन पर शेयर कर रहे हैं
स्काइप और व्हाट्सप्प करते हैं
या फिर ब्लॉग या इंस्टा पे रहते हैं
करते अपने अफ़साने ज़ाहिर
इस हुनर में हैं हम सब माहिर
अब वो आमने सामने बैठना
चाय की चुस्की और फली खाना
हँसते हंसाते लोटपोट होना
सुख दुःख में शामिल होना
कितना बदल गया है ज़माना
किस गलतफहमी में जी रहे हैं
इस तरक्की से खुश हो रहे हैं
#जाहीर
not in competition.
SS from USA

और पढ़े

I used to think Zahir = Obvious

हम रोज मिल रहे थे
अरमां खिल रहे थे
आपने प्यार जाहिर भी किया
या मैंने कुछ गलत समझ लिया
मैं तो दिल दे चुकी थी
मुझे ऐसी उम्मीद भी न थी
कि ये चार दिन की चांदनी थी
काली रात अभी बाकी थी
मुझे बीच मझधार में छोड़
खुद साहिल पे जा बैठे आप
#जाहीर

not in competition.
SS from USA

और पढ़े
Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया English शुभ रात्रि
10 महीना पहले

I was having a tough time through
I was waiting my dream comes true
That big day came in my life
When my dad announced
I am to be my best friend's wife
#जाहीर
# announce
not in competition.
SS from USA

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
10 महीना पहले

कुछ ज़ज़बात ऐसे हैं
जो चाह कर भी बताये नहीं जाते
कुछ रिश्तों की वजह से
कुछ फितरत के चलते
लबों पे नहीं हैं आते
#जाहीर
Not in competition
SS from USA

और पढ़े
Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी विचार
10 महीना पहले

खैर खून खांसी और ख़ुशी
जग ज़ाहिर है
छुपाये नहीं छुपती
#जाहीर

not in competition
SS from USA

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया English शुभ रात्रि
10 महीना पहले

It was a great day to rejoice
When I heard doctor announce
I was expecting my first baby
I became family's favorite lady
#जाहीर
# announce
not in competition
SS from USA

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया English विचार
10 महीना पहले

Don't be in such a hurry
Else you may have to worry
Unless you can properly pronounce
Be sure of affairs you announce
#जाहीर
# announce
not in competition
SS FROM USA

Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी गीत
10 महीना पहले

प्यार तुम्हें बेशुमार किया है
एक कतरा नफरत का
मैंने सीने में छुपा रखा है
जिसे कभी जाहिर न किया है
बेवफाई क्या होती है
कभी जान न सकी थी
एक तुम थे जो
वफ़ा के बदले हरदम
ज़फ़ा देते रहे हो
#जाहीर

Not in competition
SS from USA

और पढ़े
Shakuntala Sinha कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
10 महीना पहले

मैं उन लोगों में नहीं
जो लब्जों में दर्द और
शिकवा ज़ाहिर करते हैं
मेरी ख़ामोशी चुपचाप
उन लोगों से सब कुछ
खुद बयां कर देती है
आंसूओं को भी छुपा रखा है
डरती हूँ अगर छोड़ दूँ तो
कहीं सैलाब न आ जाए
#जाहीर
not in competition.
SS from USA

और पढ़े