गुलाबो सिताबो रिव्यू Mahendra Sharma द्वारा फिल्म समीक्षा में हिंदी पीडीएफ

गुलाबो सिताबो रिव्यू

Mahendra Sharma द्वारा हिंदी फिल्म समीक्षा

नाम स्त्रिओं के, पोस्टर पुरुष का, कहानी निर्जीव हवेली की। एक बुड्ढा मिर्ज़ा मतलब अमिताभ बच्च्न अपनी बहुत ही बूढ़ी बेगम के साथ एक अति जर्जित हवेली में रह रहा है। हवेली में हैं कई किरायदार और उनमें से एक ...और पढ़े