अनजाने लक्ष्य की यात्रा पे- भाग 18 Mirza Hafiz Baig द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

अनजाने लक्ष्य की यात्रा पे- भाग 18

Mirza Hafiz Baig द्वारा हिंदी रोमांचक कहानियाँ

अनजाने लक्ष्य की यात्रा पे- भाग-18 एक विद्रोह अंधेरी रात। मशालों की लपलपाती रौशनी और भयानक बोझिल सा वातावरण। मेरे प्रेम ने मेरे साथ साथ मेरे मित्र… मेरे अभिन्न मित्र गेरिक के प्राण भी संकट में डाल दिये ...और पढ़े