क्या यही है “स्वार्थी वजूद” या “जीने की ज़रूरत” Ritu Chauhan द्वारा नाटक में हिंदी पीडीएफ

क्या यही है “स्वार्थी वजूद” या “जीने की ज़रूरत”

Ritu Chauhan द्वारा हिंदी नाटक

स्वार्थ : वह सोच जो केवल अपने हित के लिए हो।स्वार्थहीन व्यक्ति की पहचान : सबसे आसान तरीका है आपके प्रति उसके स्वभाव को समझना। सच्चा मित्र वही होता है जो हर समय आपका ख्याल रखे, आप जब बुलाएं ...और पढ़े