अनजाने लक्ष्य की यात्रा पे - 16 Mirza Hafiz Baig द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

अनजाने लक्ष्य की यात्रा पे - 16

Mirza Hafiz Baig द्वारा हिंदी रोमांचक कहानियाँ

अब तक आपने पढ़ा... सहसा प्रकाश की एक किरण नज़र आई। एक लपलपाती हुई अग्नि... फिर उसे धारण किये हुये एक हाथ। एक परछाई ऊपर छत की ओर बढ़ी आरही थी जिसने एक मशाल थाम रखी थी फिर कुछ ...और पढ़े