‘लव आज कल 2’ फिल्म रिव्यू - वेलेन्टाइन का मूड बनाएगी या बिगाडेगी..? Mayur Patel द्वारा फिल्म समीक्षा में हिंदी पीडीएफ

‘लव आज कल 2’ फिल्म रिव्यू - वेलेन्टाइन का मूड बनाएगी या बिगाडेगी..?

Mayur Patel मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी फिल्म समीक्षा

‘लव आज कल 2’ की कहानी दो कालखंड में आकार लेती है. ‘कल’ यानी के 1990 में और ‘आज’ यानी के 2020 में. प्लोट वो ही है जो 2009 की ‘लव आज कल’ में था. वहां मोडर्न कपल थे ...और पढ़े